Bharatpur Lok Sabha Elections Result 2024 Sanjana Jatav says husband supported in education and politics ANN


Rajasthan Lok Sabha Chunav Result 2024: राजस्थान की हॉट सीट जीतकर संजना जाटव ने कीर्तिमान बना लिया है. 26 साल की संजना जाटव लोकसभा में सबसे कम उम्र की सांसद होंगी. उन्होंने मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के गृह जिले भरतपुर में बीजेपी को शिकस्त दी. संजना जाटव का जन्म भरतपुर की भुसावर कस्बे के महत्ता पट्टी में हुआ था. गांधी ज्योति विद्यालय से पढ़ाई करने वाली संजना जाटव ने ग्रेजुएशन भुसावर से किया. खेती बाड़ी में व्यस्त रहने वाली संजना जाटव की शादी वर्ष 2016 में अलवर जिले की कठूमर विधानसभा क्षेत्र के गांव समूची निवासी कप्तान सिंह से हुई थी.

कप्तान सिंह राजस्थान पुलिस में कांस्टेबल के पद पर कार्यरत हैं. संजना जाटव ने राजनीति के बारे में सोचा तक नहीं था. उन्होंने बताया कि परिवार के लोगों से समर्थन मिला. पति ने शादी के बाद पढ़ाई कराई और दो चुनाव भी लड़ाये. सफलता के पीछे संजना जाटव पति और परिवार का सबसे ज्यादा योगदान मानती हैं. उन्होंने कहा कि ससुराल में बहू समझने के बजाय बेटी का प्यार मिला. पति कप्तान सिंह के ताऊ कमल सिंह सरपंच रहे हैं.

सफलता का क्रेडिट पति को देती हैं संजना जाटव

संजना जाटव ने अलवर की वार्ड संख्या 29 से जिला परिषद सदस्य के चुनाव में जीत दर्ज की थी. जिला परिषद् सदस्य बनने के बाद कठूमर विधायक बाबूलाल बैरवा को लगने लगा था कि सरपंच कमल सिंह का परिवार राजनीति में टक्कर दे सकता है. इसलिए कमल सिंह के परिवार से द्वेष की भावना रखने लग गये. विधायक ने संजना जाटव के परिवार को प्रताड़ित किया. पति कप्तान सिंह के खिलाफ विभाग में शिकायत भी की.

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से चमकी किस्मत

खेड़ली कस्बे में विधायक ने गढ्ढे तक करवा दिए थे. संजना जाटव ने राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में काफी मेहनत की थी. भारत जोड़ो यात्रा में अलवर के पूर्व सांसद भंवर जीतेन्द्र सिंह, सचिन पायलट और प्रियंका गांधी की नजर संजना जाटव पर पड़ी. विधानसभा चुनाव से पहले संजना जाटव पति के साथ दिल्ली में प्रियंका गांधी से मिलने पहुंचीं. वर्ष 2023 के विधानसभा चुनाव में कठूमर विधानसभा से बाबूलाल बैरवा का टिकट काटकर संजना जाटव को मैदान में उतारा गया.

पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ रहीं संजना जाटव को मात्र 409 वोटों से शिकस्त मिली. विधानसभा का चुनाव हारने के बाद भी कांग्रेस ने संजना जाटव पर भरोसा जताया. लोकसभा चुनाव के रण में संजना जाटव को उतारा गया. संजना जाटव के पक्ष में जातीय समीकरण सटीक बैठा. उन्होंने मुख्यमंत्री के गृह जिला भरतपुर की लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी रामस्वरूप कोली को 51 हजार 983 वोटों से हराया.

भरतपुर सीट पर कांग्रेस की हार का लिया बदला

वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी रंजीता कोली ने कांग्रेस प्रत्याशी अभिजीत कुमार जाटव को लगभग 3 लाख 18 हजार वोटों से हराया था. 2024 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की संजना जाटव ने बीजेपी के के रामस्वरूप कोली को हराकर बदला ले लिया. उन्होंने भरतपुर-धौलपुर के जाट को केंद्र में ओबीसी आरक्षण का मुद्दा उठाने की बात कही है. 



Source link

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *